किसान रथ मोबाइल एप डाउनलोड करें − घर बैठे मंडी तक पहुंचेगा अनाज

Published Date - 21 April 2020 04:58:11 Updated Date - 21 April 2020 05:01:35

किसान रथ मोबाइल एप डाउनलोड करें − घर बैठे मंडी तक पहुंचेगा अनाज

कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए सरकार ने 3 मई तक लॉकडाउन को आगे बढ़ा दिया है। लॉकडाउन की वजह से किसानों को अपनी उपज को मंडियों तक पहुंचाने और व्यापारी को बेचने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। किसानों को इस परेशानी से निजात दिलाने के लिए केंद्र सरकार ने किसान रथ मोबाइल ऐप  ( Kisan Rath Mobile App) को लांच किया है। अभी गेहूं जैसी रबी फसलों की कटाई का समय भी चल रहा है इसी वजह से किसानों को इस कोविड-19 कर्फ्यू के दौरान अपनी फसलों की कटाई से लेकर उसे मंडी तक पहुंचाने में किसी भी तरह की समस्या का सामना ना करना पड़े इसीलिए कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर द्वारा किसान रथ मोबाइल ऐप का शुभारंभ किया गया। गेहूँ के साथ-साथ किसान इस कृषि रथ एप पर फल, सब्जियाँ के साथ-साथ अन्य कृषि से जुड़ी चीजें भी लिस्ट कर सकते हैं।

किसान रथ एप किसान और व्यापारी के बीच एक चेन बनाएगी जिससे किसानों को अपनी फसल बेचने के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं है और ना ही किसी दफ्तर के चक्कर काटने की जरूरत पड़ेगी। इसी तरह व्यापारी भी इस कृषि रथ एप के माध्यम से लिस्ट की गई फसल का ब्योरा देख सकते हैं। इस तरह से खरीद और बिक्री दोनों में आसानी होगी।

Kisan Rath App का फायदा

इस ऐप की कुछ खास बातें हैं जो किसान और खरीददार के बीच एक तालमेल बनाने में सहायता करती है जैसे की:

  • इस एप से किसानों और व्यापारियों को परिवहन वाहनों (ट्रक या अन्य सामान ढ़ोने वाला वाहन) के बारे में जानकारी मिलेगी।
  • एप में ट्रक के आने का समय और स्थान के बारे में भी जानकारी होगी जिसके बाद किसान एक तय समय और स्थान पर जाकर फल, सब्जियों और अनाज को बेच सकेंगे।
  • इस एप के जरिए ट्रांसपोटर्स भी सामान की ढुलाई के लिए अपनी गाड़ी का रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।
  • किसान द्वारा दर्ज ढुलाई के माल की मात्रा व्यापारियों और ट्रांसपोर्टरों दोनों को दिखाई देगा।
  • कारोबारियों को अपने क्षेत्रों में बिक्री के लिए उपलब्ध कृषि उपज का पता चल जाएगा और वे विभिन्न किसानों के द्वारा भेजे जा सकने वाले कृषि वस्तुओं को जुटाकर उसे खेत से उठाने के लिए ट्रक की व्यवस्था कर सकते हैं।
 

किसान  रथ  ऐप  पर कस्टम  हायरिंग  सेंटर

इसके मार्फत किसान अपने मोबाइल एप से ट्रक, ट्रैक्टर और अन्य कृषि मशीनरी किराये पर बुला सकता है। किसान रथ एप पर फिलहाल कुल 5.7 लाख ट्रक उपलब्ध हैं, जिन्हें किसान अपनी जरूरत के हिसाब से बुक कर सकते हैं। बुक करते समय ही ट्रांसपोर्टर से किराया, लोडिंग और अनलोडिंग के बारे में मोलभाव किया जा सकता है। इस एप के जरिए किसान अपनी किसी भी उपज को अपनी जरूरत के हिसाब से संबंधित मंडियों में भेज सकता है। इसके अलावा किसान रथ एप पर कस्टम हायरिंग सेंटर भी दर्ज है। इसके मार्फत खेती की अन्य जरूरतों के लिए मशीनरी भी बुक की जा सकती है। एप पर 14 हजार से अधिक कस्टम हायर सेंटरों (सीएचसी) के 20 हजार से अधिक ट्रैक्टर भी रजिस्टर्ड हैं।

नेशनल इन्फॉर्मेटिक्स सेंटर (NIC) ने इस एपलिकेशन को डेवलप किया है। इसका लक्ष्य ऐसे किसानों और कारोबारियों को मदद करना है, जो कृषि उत्पादों को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए वाहनों की तलाश में हैं। इस एप के जरिए किसान अपनी फसल को मंडियों, स्थानीय वेयरहाउस या कलेक्शन सेंटर तक ले जाने के लिए वाहन बुक कर सकते हैं। 

किसान  रथ  मोबाइल  ऐप  डाउनलोड

कृषि रथ ऐप किसान और व्यापारी के बीच एक सीधा संपर्क बनती है जिससे खरीद और बिक्री को आसान बनाया जाता है एप को डाउनलोड कैसे करना है इसके लिए आप निम्न्लिखित  स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं:

  • आपको अपने एंड्रॉयड फोन में Google Play Store खोलना है।
  • Google प्ले स्टोर में जाने के बाद आपको “Kisan Rath” सर्च करना है।
  • इसको आप इन्स्टाल कर सकते हैं, अगर आपको सही एप नहीं मिलती है तो आप नीचे दिये लिंक पर डाइरैक्ट क्लिक कर सकते हैं।

यह बात ध्यान रहे की Google Play Store में इस तरह की अन्य एप भी हैं पर आपको NIC eGov द्वारा बनाई गई ऐप को ही इन्स्टाल करना है जो केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा बनाई गई है।

ऐसे कर सकते हैं रजिस्ट्रेशन

कृषि रथ ऐप को आप कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं इसके लिए हम आपको कुछ स्टेप्स बताने जा रहे हैं जिससे आपको इसे इस्तेमाल करने में आसानी होगी:

  • जैसे ही आप एप को इन्स्टाल करने के बाद ओपन करोगे एक स्क्रीन खुलेगी जिसमें आपको अपनी भाषा का चयन करना है।
  • अपनी भाषा का चयन कर लेने के बाद आपको ऊपर तीन विकल्प दिखाई देंगे ‘Farmer’, ‘Trader’, ‘Service Provider’ अगर आप किसान हैं तो आपको “Farmer” के ऑप्शन पर क्लिक करके किसान रथ एप पर ऑनलाइन लॉगिन कर लेना है।
  • अगर आप पहले से ही पंजीकृत नहीं है तो आप ‘Sign In’ के नीचे दिये गए “Don’t have an account ? Register” के ऑप्शन पर क्लिक करके आगे बढ़ना हैं।
  • जिसके बाद किसान एप पर किसान ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुल जाएगा ।
  • यहाँ पर आपको पूछी गई जानकारी भरनी है जैसे की नाम, मोबाइल नंबर, राज्य, जिला, तहसील, गाँव आदि और सबमिट कर देना है।

ध्यान रहे की आपको सभी जानकारी सही से भरनी है क्यूंकि आपके द्वारा भरें गए किसान रथ एप्लीकेशन फॉर्म के आधार पर ही आपसे व्यापारी और सर्विस प्रोवाइडर संपर्क करेंगे।

किसान  रथ  ऐप फसल  ब्यौरा  की  जानकारी

कृषि रथ ऐप पर किसानों को अपनी उपज या माल की मात्रा का का ब्यौरा देना होगा। उसके बाद परिवहन सुविधाएं उपलब्ध कराने वाली नेटवर्क कंपनी किसानों को उस माल को पहुंचाने के लिए ट्रक और किराये का ब्यौरा उपलब्ध कराएंगी। अगर दोनों में सहमति हो जाती है तो पुष्टि मिलने के बाद, किसानों को ऐप पर ट्रांसपोर्टरों का विवरण मिलेगा किसान ट्रांसपोर्टरों के साथ आखिर तक जुड़े रह सकते हैं और उपज या अनाज को मंडी तक पहुंचाने के लिए हुए सौदे को अंतिम रूप दे सकते हैं।

कृषि  रथ  ऐप  पर  उपलब्ध  भाषाएँ

कृषि मंत्रालय ने इस ऐप को इस हिसाब से बनवाया है की देश के लगभग सभी राज्यों के किसान अपनी भाषा के अनुसार जानकारी प्राप्त कर कर सकें और दे सकें:

  1. अंग्रेज़ी (English)
  2. हिंदी
  3. गुजराती
  4. मराठी
  5. पंजाबी
  6. तमिल
  7. कन्नड़ (Kannada)
  8. तेलुगू (Telugu)
 

 


Leave Your Comment Here