Beti Bachao Beti Padhao Yojana in Hindi (बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ - बालिका शिशु की देखभाल)

Published Date - 14 September 2017 03:09:14 Updated Date - 25 October 2017 10:22:57

हमारे माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने लड़कियों की रक्षा और उनके बेहतर पढाई के लिए एक बेहतरीन स्कीम की शुरुवात की जिसका नाम है Beti Bachao Beti Padhao Yojana [BBBPY]. बहुत सारे क्षेत्रों में बेटियों को लड़के की जन्म की आस में सूली में चढ़ा दे रहे हैं जो की बहुत ही शर्म की बात है। यह स्कीम लाया गया है ताकि लिंग भेदभाव रुके और एक लड़की की जान बच सके।

यह स्कीम लड़के और लड़कियों के बिच के भेदभाव को पूरी तरीके से दूर कर देगा और साथ ही लोगों के मन में एक बदलाव ले कर आएगा। लड़कियों को लड़कों के मुकाबले कम समझने वालों को लड़कियों का मूल्य समझ में आएगा।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की शुरूआत प्रधान मंत्री ने 22 जनवरी 2015 को पानीपत, हरियाणा में की थी। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना से पूरे जीवन-काल में शिशु लिंग अनुपात में कमी को रोकने में मदद मिलती है और महिलाओं के सशक्तीकरण से जुड़े मुद्दों का समाधान होता है। यह योजना तीन मंत्रालयों द्वारा कार्यान्वित की जा रही है अर्थात महिला और बाल विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय तथा मानव संसाधन मंत्रालय।

इस योजना के मुख्य घटकों में शामिल हैं प्रथम चरण में PC तथा PNDT Act को लागू करना, राष्ट्रव्यापी जागरूकता और प्रचार अभियान चलाना तथा चुने गए 100 जिलों (जहां शिशु लिंग अनुपात कम है) में विभिन्न क्षेत्रों से संबंधित कार्य करना। बुनियादी स्तर पर लोगों को प्रशिक्षण देकर, संवेदनशील और जागरूक बनाकर तथा सामुदायिक एकजुटता के माध्यम से उनकी सोच को बदलने पर जोर दिया जा रहा है।

एनडीए सरकार कन्या शिशु के प्रति समाज के नजरिए में परिवर्तनकारी बदलाव लाने का प्रयास कर रही है। प्रधान मंत्री मोदी ने अपने मन की बात में हरियाणा के बीबीपुर के एक सरपंच की तारीफ की जिसने ‘Selfie With Daughter’ पहल की शुरूआत की। प्रधान मंत्री ने लोगों से बेटियों के साथ अपनी सेल्फी भेजने का अनुरोध भी किया और जल्द ही यह विश्व भर में हिट हो गया। भारत और दुनिया के कई देशों के लोगों ने बेटियों के साथ अपनी सेल्फी भेजी और यह उन सबके लिए एक गर्व का अवसर बन गया जिनकी बेटियां हैं।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की शुरूआत के बाद से लगभग सभी राज्यों में multi-sectoral District Action Plans चलाए जा रहे हैं। जिला स्तर के कर्मचारियों तथा frontline workers की क्षमता को और बढ़ाने के लिए प्रशिक्षकों के लिए क्षमता निर्माण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं और उन्हें प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अप्रैल से अक्टूबर 2015 तक इस तरह के नौ प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जा चुके हैं जिसमें सभी राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को शामिल किया गया।

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना स्कीम से जुड़े संबधित मंत्रालय (Related Ministry )

  • महिला बाल विकास (Women and Child Development)
  • स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण (Health and family welfare)
  • मानव संसाधन विकास (Human Resource Development)

 

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के लिए आवेदन पत्र

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना में आपको अपनी बेटी के लिए एक Bank Account Open करना होगा जिसमें उस बच्ची की Age Limit 10 Years होती है। इसी के जैसे और भी स्कीम है जैसे Sukanya Samriddhi Yojna या Sukanya Dev Yojna.

सभी Banks इस Beti Bachao Beti Padhao Yojna के लिए Authorize हैं इसलिए आप अपने पास के किसी भी बैंक में इस योजना के तहत अकाउंट खुलवा सकते हैं। यहाँ तक की आप पास के Post Office में भी इस योजने के तहत Account Open करवा सकते हैं।

इस Scheme की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें छोटे से छोटे Savings पर ज्यादा से ज्यादा Interest मिलता। साथ ही उस लड़की का Account U/S 80C of the Income Tax Act, 1961 के अनुसार पूरी तरीके से Tax Free होता है।

बेटी  बचाओ बेटी पढाओ योजना के फायदे

इस योजना के कई फायदे हैं – जैसे

  • इससे लड़कियों को वित्तीय सहायता मिलती है।
  • इस योजना से लड़कियों को उच्च शिक्षा के लिए जाने का अवसर प्रदान क होता है।
  • लड़कियों के विवाह में यह स्कीम वित्तीय सहायता प्रदान करता है।2
  • कन्या भ्रूण हत्या को रोकने में मदद कर रहा है।
  • लड़कियों को आगे बढ़ने में मदद मिलती है।

 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ स्कीम को कैसे लागु किया गया है?

 

इस scheme को District Level, At Block Level और Gram Panchayat Level पर लागु किया गया है। साथ ही समाज में इस नारा को फ़ैलाने के लिए समय समय पर कई प्रोग्राम और ज्ञान दिये जाते हैं ताकि लडकियों और लड़कों के बिच भेदभाव दूर हो।

 

बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के लिए जरूरी डाक्यूमेंट्स

  • लड़की का जन्म प्रमाण पत्र
  • उसके माता पिता का पहचान प्रमाण पत्र
  • उसके माता पिता का पता प्रमाण पत्र

Note: यह स्कीम NRIs के लिए नहीं हैं।

BBBP स्कीम के लिए पंजीकरण कैसे करें?

  1.  इस स्कीम के अनुसार आपको 10 वर्ष होने पर अपनी बेटी को 10 वर्ष होने पर इस स्कीम के अनुसार Bank Account Open करवाएं।
  2. इस BBBP Yojna के अनुसार Account खुलवाने पर सबसे ज्यदा Interest मिलता है Savings पर।
  3. इस Account का Maturity 21 वर्ष है और Open किये हुए दिन से और लड़की की उम्र 18 वर्ष होने के बाद ही वह उससे से आधी धन राशी निकाल सकते हैं उच्च शिक्षा के लिए।

 

बेटी  बचाओ  बेटी पढाओ स्कीम  डाउनलोड  BBBP scheme pdf

Click Here

Implementation Guide

Click Here

Official website

Click Here


Sandeep Saini

27-02-2018

very nice scheme

Leave Your Comment Here