प्रधान मंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY)

Published Date - 12 September 2017 06:13:31 Updated Date - 25 October 2017 10:26:41

देश के उज्जवल भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए और बेरोजगारी की समस्या को देखते हुए प्रधान मंत्री जी ने,  प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना यह New National Skill Development and Entrepreneurship Policy 2015 राष्ट्रीय कौशल विकास योजना के तहत इस योजना को लाया गया हैं |

 

प्रधानमंत्री मोदी ने नीति आयोग से हुई मीटिंग के बाद स्किल डेवेलोपमेंट मिशन के तहत प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की घोषणा की जिसे कौशल विकास योजना का नाम दिया गया | प्रधान मंत्री जी ने कहा कि हमारा देश दुनियाँ में सबसे अधिक युवा शक्ति वाला देश हैं और इसे ही देश की सबसे प्रबल ताकत बताया हैं |

देश की गरीबी को हटाने मे इस योजना का देश के हित में विशेष योगदान रहेगा | मोदी जी ने कहा सबसे पहले हमें दुनियाँ की सभी आवश्यक्ताओं को लेकर एक मानचित्र बनाना होगा उसके बाद हम उनके अनुसार मानव संसाधन तैयार करेंगे जिससे देश को उन्नति की ओर अग्रसर किया जा सकें |

 

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का उद्देश्य –

  • इस योजना के पहले वर्ष में 24 लाख वर्कर्स को शामिल किया जाएगा इसके बाद वर्ष 2022 तक यह संख्या 40.2 करोड़ ले जाने की योजना हैं |

    ·        राष्ट्रीय कौशल विकास का मुख्य उद्देश्य देश में सभी युवा वर्ग को संगठित करके  उनके कौशल को निखार कर उनकी योग्यतानुसार रोजगार से देना रहेगा |

    ·    राष्ट्रीय कौशल विकास के लिए लोग अधिक से अधिक संख्या में जुड़ सके इसके लिए उन्हें लोन की सुविधा प्रदान की जाएगी जिससे वो इस दिशा में कार्य करने में सक्षम हो सकें.

 

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि देश की जनसंख्या में 65 % युवा हैं जिनकी उम्र 35 से कम हैं यदि इन्हें समय पर रोजगार दिया जाए तो आसानी से देश उन्नति की ओर बढ़ सकता है |  इस लिए राष्ट्रिय कौशल विकास योजना देश को उन्नतिशील बनाने हेतु लायी जा रही है |

मोदी जी ने यह भी कहा कि यदि  हायर एजुकेशन के बाद तो रोजगार मिलता हैं लेकिन इसके अलावा भी कुछ ऐसी ट्रेनिंग सुविधायें देनी होंगी जिससे किसी विशेष क्षेत्र में कौशल अर्जित कर रोजगार आसानी से प्राप्त कर  सके जिसमे कम लागत में अधिक काम हो सकें |

कैसे जुड़े प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से ?-



  • सरकार ने कई टेलिकॉम कंपनी को इस कार्य में अपने साथ रखा है |

 

  • यह टेलिकॉम कंपनी SMS द्वारा इस योजना को सभी लोगो तक पहुँचाने का कार्य करती है |

 

  • इसके साथ ही SMS में एक ट्रोल नंबर दिया जायेगा जिस पर कैंडिडेट को मिस कॉल देना होगा |

 

  • मिस कॉल के तुरंत बाद आपको ऑटो मेटीकली एक नंबर से कॉल बेक आएगा जिसके जरिये आप IVR सुविधा से जुड़ जायेंगे |

 

  • इसके बाद कैंडिडेट को अपनी जानकारी दिए गये निर्देशानुसार भेजनी होगी | यह जानकारी सिस्टम में सेव कर ली जाएगी |

 

  • इस जानकारी के एकत्रित के बाद आवेदनकर्ता को उसकी क्षेत्र में अर्थात उसके निवास के आस-पास ट्रेंनिंग सेंटर से जोड़ा जायेगा | जहाँ से आपको पूरी जानकारी दी जाएगी |

 

कौशल विकास योजना में स्वयं प्रधानमंत्री के साथ अरुण जेटली, सुरेश प्रभु, स्मृति ईरानी, जे. पी. नन्दा, मनोहर परिकर  आदि बड़े नाम भी जुड़े रहेंगे | इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश की बेरोजगारी की समस्या को खत्म करके , देश को बेरोजगार मुक्त करने की है | जिससे देश की प्रगति हो सकें |


Ajit kumar

10-07-2018

Sir ye sab kab se ho Ra hii

Leave Your Comment Here