Published Date - 21 October 2017 01:35:38 Updated Date - 25 October 2017 10:42:14

राजस्थान में वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना 2017

राजस्थान सरकार ने तीर्थ यात्रा करने की इच्छा रखने वाले लोगों के लिए पंडित दीन दयाल के नाम से एक नई तीर्थ यात्रा योजना शुरू की है जिसका नाम वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना है। यह योजना राज्य के वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की गई है। इस योजना के अंतर्गत 20000 तीर्थयात्री नि:शुल्क यात्रा कर सकते हैं। इस योजना के लिए 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोग पात्र हैं। 60 वर्ष से ऊपर के वरिष्ठ नागरिक रेल यात्रा का लाभ लेंगे और 65 वर्ष से ऊपर के वरिष्ठ नागरिक हवाई यात्रा का लाभ उठाएंगे।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने यह योजना राज्य के देवस्थान विभाग द्वारा शुरू की है | इस योजना को 60 वर्ष के वरिष्ठ नागरिकों के लिए लागू की है | इस योजना का लाभ लेने के लिए पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाना होगा | इस योजना के अंतर्गत 23 स्थानों की यात्रा करवाई जाएगी, जिसमें से 10 स्थानों पर हवाई यात्रा एवं 13 स्थानों पर रेल यात्रा के द्वारा तीर्थयात्रा को समाप्त किया जाएगा |

  • इस योजना के तहत 60 वर्ष से अधिक आयु वाले वरिष्ठ नागरिक रेल यात्रा का लाभ लेंगे एवं 65 वर्ष से अधिक आयु वाले वरिष्ठ नागरिक हवाई यात्रा का लाभ ले पाएंगे |
  • योजना के अंतर्गत, 70 अधिक आयु वाले नागरिकों को यात्रा पर एक सहयोगी का लाभ दिया जाएगा, जिससे अपनी सहायता के लिए एक सहयोगी जन को यात्रा में साथ ले सकते है |
  • इस तीर्थयात्रा में पति-पत्नी के साथ लाभ लेने पर कोई सहयोगी की अनुमति नहीं दी जाएगी |
  • इस तीर्थयात्रा पर पुरुष सहयोगी की आयु 21 से 45 वर्ष के मध्य तथा महिला सहायक 30 से 45 वर्ष के होनी आवश्यक है |
  • योजना में आवेदन करते समय ही पति-पत्नी व सहयोगी की जानकारी देनी होगी |
 

वरिष्ठनागरिकतीर्थयात्रायोजनामेंआवेदनकेपात्र/ अपात्र :

  • देवस्थान विभाग के आयुक्त जितेन्द्र उपाध्याय के मुताबिक, इस तीर्थयात्रा योजना में पात्र आवेदनकर्त्ता राजस्थान राज्य का मूल निवासी होना चाहिए |
  • आवेदक आयकरदाता नहीं होना चाहिए तथा जिसने पूर्व में योजना का लाभ नहीं लिया है, वह योजना में आवेदन का पात्र है |
  • योजना के तहत आवेदनकर्त्ता को शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ होना अनिवार्य है |
  • इसमें सरकार या स्थानीय निकाय से सेवानिवृत कर्मचारी, अधिकारी एवं उनके जीवन साथी यात्रा के पात्र नहीं होंगे |
 

वरिष्ठनागरिकतीर्थयात्रायोजनाकीऑनलाइनपंजीकरणतिथि :

इस योजना में आवेदन करने की तिथि 1 जुलाई, 2017 तथा आखिरी तिथि 31 जुलाई, 2017 निर्धारित की है | इस योजना में किसी भी वर्ग के वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा के लिए अप्लाई कर सकते है |

राजस्थान में वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना 2017 के लिए पात्रता

इस योजना के लिए पंजीकरण करने से पहले लोगों ने यह जांच करनी होगी कि वे इस योजना के लिए योग्यता मानदंडों को पूरा करते हैं या नहीं।

श्रधालु राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए।
60 बर्ष या इस से अधिक वर्ष के लोग इस योजना के लिए अप्लाइ कर सकते है।
श्रधालु आयकरदाता नही होना चाहिए।
इस योजना के लिए सेवानिवृत कर्मचारी वह अधिकारी इस योजना के पात्र नही होंगें।
तीर्थयात्रिओं को रेजिस्ट्रेशन के दौरान अपने फिटनेस प्रमाण पत्र दिखाना होगा।
तीर्थयात्रिओं का चयन लॉटरी प्रणाली दवारा किया जाएगा।
एक सहायक को किसी पति या पत्नी के साथ मिलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। आवेदक का जीवन साथी अगर 60 वर्ष से कम का हो तब भी वह उसके साथ यात्रा कर सकता है।

राजस्थान वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना 2017 के ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करें ?

इस वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना में ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 1 जुलाई, 2017 से शुरू कर दी है | इस योजना का लाभ लेने के लिए आप दी गई आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है | जानिए कैसे करें ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन :–

  • वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना में आवेदन के लिए देवस्थान विभाग द्वारा जारी वेबसाइट पर devasthan.rajasthan.gov.in यात्रा करें |

 

  • वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ के आखिर में “दीन दयाल उपाध्‍याय वरिष्‍ठ नागरिक योजना 2017” दिया गया है, इस पर क्लिक करें |
  • अब आपके सामने देवस्थान विभाग द्वारा राज्य में शुरू की गई सभी तीर्थयात्रा योजनाओ की सूची होगी, इस सूची में “तीसरे नंबर की योजना में ‘आवेदन करें’ के विकल्प पर क्लिक करें |
  • इस विकल्प पर क्लिक करने पर आवेदन पृष्ठ सामने आएगा | इस योजना में आवेदन करने के लिए भामाशाह ID / आधार नंबर की आवेदन के लिए अनिवार्य है |
 
 

 

दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागिक तीर्थ यात्रा योजना की मुख्य विशेषताएं

 

  • 60 वर्ष की आयु से पार कर चुके वरिष्ठ नागरिक रेल की यात्रा के सीधे लाभ ले सकते हैं जबकि 65 वर्षीय नागरिक हवाई यात्रा का लाभ उठा सकते हैं।
  • जिस व्यक्ति ने 70 वर्ष की आयु पूरी कर ली है वह यात्रा पर एक सहयोगी का लाभ उठाने के लिए लाभ उठाएगा, ताकि एक साथी नागरिक यात्रा करने में मदद ले सकें।
  • एक और महत्वपूर्ण बात, किसी भी साथी को पति और पत्नी का लाभ लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी।
  • देवस्थान विभाग की जांच करें तीर्थ यात्रा लॉटरी सूची / परिणाम 2017
  • देवस्थान विभाग राजस्थान ने देवस्थान विभाजन की तीर्थ यात्रा लॉटरी सूची 2017 की अपनी आधिकारिक वेबसाइट देवस्थान.राजस्थान.gov.in पर घोषणा की। स्रोत के मुताबिकवरिष्ठ नागरिकों (20000) की संख्या देवस्थान वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा 2017 के लिए चुनी गई थी। इसमें 15000 नागरिक ट्रेन से यात्रा करेंगे जबकि 5000 बड़े व्यक्ति विमान से यात्रा करेंगे।



देवस्थान विभाग की तीर्थ यात्रा लॉटरी सूची 2017 में कुल 53274 आवेदन प्राप्त हुए। जिसमें 1615 9 को हवा से यात्रा करना पसंद किया गया और 37115 रेलगाड़ियों की यात्रा का चयन करना था। इसके अलावा, दीन दयाल उपाध्याय वरीष्ठ नागिक तीर्थ यात्रा योजना 2017 की प्रतीक्षा में 100 वरिष्ठ नागरिकों की सूची।

देवस्थान विभाजन की जांच करने की प्रक्रिया तीर्थ यात्रा लॉटरी सूची / परिणाम 2017

सूची देखने के लिए, आवेदकों को निम्न चरणों का पालन करना है, जैसा कि आप देख सकते हैं: -

  • सबसे पहले उन्हें देवस्थान विभाग की वेबसाइट www.devasthan.rajasthan.gov.in पर जाना होगा
  • वहां जाने के बाद, उन्हें "दीन दयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक योजना 2017 लॉटरी परिणाम" लिंक पर

क्लिक    करना होगा

  • उसके बाद "तीर्थ यात्रा योजना लॉटरी" पर क्लिक करें
  • सूची उन्हें कंप्यूटर स्क्रीन पर दिखाई जाएगी

वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना 2017 में ट्रेन द्वारा तीर्थ किए जाने वाले स्थान।

जगन्नाथ पुरी
रामेश्वरम
वैष्णो देवी
तिरुपति
द्वारिका पुरी
अमृतसर
समेद्शिखर
गोवा
श्रवणबेलगोला
बिहारशरीफ
शिरडी
पटना साहिब
गया – बोधगया – सारनाथ

हवाई जहाज द्वारा तीर्थ किए जाने वाले स्थान।

जगन्नाथ पुरी
रामेश्वरम
तिरुपति
वाराणसी – काशी-सारनाथ
अमृतसर
सम्मेदशिखरजी
गोवा
बिहारशरीफ
शिरडी
पटना साहिब


Sateesh saini

01-12-2017

Sir Dindyall tirath yojana ki list kahan milegi

Leave Your Comment Here