राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना की पूरी जानकारी हिंदी में

Published Date - 21 October 2017 02:15:20 Updated Date - 25 October 2017 10:40:35

बालिका शिक्षा को प्रोत्साहित करने और कन्या भ्रूण हत्या को रोकने के लिए राजस्थान राज्य सरकार ने लड़कियों के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री राजश्री एक नई योजना शुरू की है। मुख्यमंत्री राजश्री योजना की घोषणा 8 मार्च 2016 को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के विशेष अवसर पर राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने की।

इस योजना के तहत सरकार स्वास्थ्य और शिक्षा के लिए राज्य में बालिकाओं के लिए वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है। मुख्यमंत्री राजश्री योजना बालिकाओं को जन्म से 12 वीं कक्षा में शिक्षा प्राप्त करने के लिए समय पर छात्रवृत्ति प्रदान कर रही है।

यह छात्रवृत्ति और वित्तीय सहायता महिला विभाग एवं बाल कल्याण राजस्थान द्वारा प्रदान की जाती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य जनता के बीच लड़कियों के बारे में सकारात्मक सोच पैदा कर के लिंग अनुपात और लड़कियों के लिए मानक शिक्षा उपलब्ध कराने में सुधार करना है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लोग अपनी बालिकाओं आगे पढ़ने के लिए समर्थ नहीं है या कुछ परिवार पैसे की कमी के कारण स्कूलों में अपने बच्चों को भर्ती नहीं करवा पाते।

इस कारण राजस्थान राज्य सरकार ने बहुत अच्छी पहल की है और उन्हें उनके जीवन की प्रत्येक चरणों में वित्तीय सहायता प्रदान कर रही है।

 

मुख्यमंत्री ‪शुभलक्ष्मी ‎योजना का नाम बदलकर आज से मुख्यमंत्री ‪‎राजश्री योजना हो गया है। इसी के साथ ही इसमें लाभान्वित राशि भी 7400 रुपए से बढ़कर 50 हजार रुपए होगी। शुभलक्ष्मी योजना में सरकार सरकारी अस्पतालों में जन्म लेने वाली बेटी को 2100 रुपए की आर्थिक सहायता देती है तथा योजना के तहत समय-समय पर मां-बेटी को 7400 रुपए तक की आर्थिक सहायता देने का भी प्रावधान था। शुभलक्ष्मी योजना 1 अप्रैल 2013 से संचालित थी जो अब राजश्री योजना हो गयी है। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे जी ने शुभलक्ष्मी योजना का नाम बदलने के साथ-साथ आर्थिक सहायता भी 50 हजार रुपए कर दी है एवं इसका लाभ आज से यानि1 जून से जन्म लेने वाली बेटियों को मिलेगा। इस योजना में उन बेटियों को शिक्षा के लिए 50 हजार रुपए दिए जाएंगे, जिनका जन्म सरकारी अस्पताल में हुआ है। यह राशि 12वीं तक पढ़ाई पूरी करने तक मिलेगी।
‪मुख्यमंत्री शुभ लक्ष्मी योजना के तहत नियमानुसार दिया जाने वाला प्रथम परिलाभ 2100 रुपए की राशि 31 मई रात 12 बजे तक देय होगा। सीएमएचओ ने बताया कि जिन बालिकाओं को मुख्यमंत्री शुभलक्ष्मी योजना के तहत प्रथम परिलाभ 31 मई की रात 12 बजे तक दिया जाएगा, उनको मुख्यमंत्री शुभलक्ष्मी योजना के तहत आगामी दिए जाने वाले द्वितीय एवं तृतीय परिलाभ क्रमश: 2100 एवं 3100 पूर्व में जारी मुख्यमंत्री शुभ लक्ष्मी योजना के तहत दिया ही जाएगा। इसके अलावा जिन बालिकाओं को मुख्यमंत्री शुभलक्ष्मी योजना का प्रथम एवं द्वितीय परिलाभ दिया जा चुका है उनको भी तीसरा परिलाभी इसी योजना के तहत ही 3100 रुपए दिया जाएगा।
एवं मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अनुसार बालिका के जन्म के समय 2500 रुपए की आर्थिक सहायता मां को दी जाएगी। दूसरी किस्त के रूप में भी पहले जन्मदिन पर 2500 रुपए बालिका को दिए जाएंगे, लेकिन इसमें पूर्ण टीकाकरण होने पर दिया जाएगा। वहीं पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर बालिका की माता के खाते में 4 हजार रुपए आएंगे। जब बेटी इसके बाद छठी कक्षा में प्रवेश लेगी तो फिर से सरकार उसकी मां के खाते में पांच हजार रुपए की आर्थिक सहायता देगी। 10वीं में प्रवेश लेने पर ग्यारह हजार की और सहायता मिलेगी। यदि 12वीं कक्षा पास कर लेती है तो एक मुश्त 25 हजार रुपए की सहायता देगी। सरकार योजना को भामाशाह से भी लिंक करेगी। सरकार की ओर से दी जाने वाली आर्थिक सहायता बेटी की मां के खाते में ही जमा होगी। पहली दो किस्तें ‪चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की ओर से और उसके बाद ‎महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से यह परिलाभ मिलेगा। इसमें 12वीं पास करने तक 6 किश्त मिलेगी ।
अमूमन ग्रामीण इलाकों में बालिकाएं विभिन्न कारणों से अपनी शिक्षा पूरी नहीं कर पाती। इसमें सबसे बड़ा कारण अभिभावकों की कमजोर आर्थिक स्थिति है। इसी कारण अब बढ़ाए गए 45 हजार रुपए बालिका की शिक्षा पूर्ण होने तक विभिन्न किस्तों में दिए जाएंगे।
मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे जी की बजट घोषणा 2016-17 के अनुसार शुभलक्ष्मी योजना का नाम बदलकर मुख्यमंत्री राजश्री योजना कर दिया गया है। इसी के साथ हीं इसमें दी जाने वाली प्रोत्साहन राशि को भी बढाया गया है। बालिका जन्म को बढावा देने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री राजश्री योजना जिला सहित पूरे प्रदेश में आज से बुधवार से लागू हो गयी है।
31 मई रात्रि 12 बजे बाद से सरकारी व अधिस्वीकृत निजी चिकित्सालयों में जीवित बालिका के जन्म पर बालिकाओं को इस योजना के तहत 50 हजार रूपये का लाभ मिलना शुरू हो जायेगा। ज्यों-ज्यों बिटिया बढ़ी होगी,योजना के तहत किश्ते मिलती रहेगी।
इसके बाद 1 जून से सरकारी व अधिस्वीकृत चिकित्सा संस्थानों में जन्म लेने वाली बालिका की मां को मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत लाभ दिया जायेगा। उन्होंने समस्त चिकित्साधिकारियों को निर्देशित किया कि वे राजश्री योजना के संचालन हेतु चिकित्सा संस्थानों पर पूर्ण तैयारी सुनिश्चित कर लेवे। क्योकि 1 जून से योजना का शुभारम्भ जिले में किया जा रहा है। योजना के तहत प्रोत्साहन राशि का भुगतान ऑनलाईन की जगह प्रसूता माताओं को अकाउण्ट पेयी चैक के माध्यम से किया जायेगा। राजश्री योजना का लाभ मात्रा राजस्थान प्रदेश की मूल निवासी प्रसूताओं को ही देय होगा। उन्होंने बताया कि योजना के शुरू होने से बालिकाओं के प्रति समाज का नजरियां बदलेगा व अभिभावकों को सम्बल मिलेगा और सभी समाजों में कन्याओं के शिक्षण व पालन-पोषण के प्रति और अधिक जागरूकता आयेगी ।

एक जून से बेटी जन्म पर मुख्यमंत्री राजश्री योजना

मुख्यमंत्री द्वारा बजट 2016-17 में घोषित मुख्यमंत्री राजश्री योजना 1 जून से प्रदेशभर में लागू हो जायेगी। उन्होंने बताया कि 1 जून से जन्मी बच्चियों को मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत् चैक के द्वारा माता के नाम प्रथम किश्त 2500 रुपये की संबंधित चिकित्सा केन्द्र द्वारा दी जायेगी। बालिका की आयु 1 वर्ष होेने व सम्पूर्ण टीकाकरण होने पश्चात् 2500 रुपये की द्वितीय किश्त भी चैक द्वारा ममता कार्ड के आधार पर जारी की जायेगी। मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन श्री नवीन जैन ने बताया कि इससे पूर्व जन्मी समस्त बच्चियों को शुभ लक्ष्मी योजना की शेष रही किश्तों का भुगतान पूर्वानुसार ही देय होगा। उन्होंने उन्होंने कि शिशु जन्म पर देय जननी सुरक्षा योजना का लाभ यथावत् ऑनलाईन ओजस सॉफ्टवेयर के माध्यम से ही देय होगा। इसके लिए समस्त संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया जा चुका है। श्री जैन ने बताया कि मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ मात्र राजस्थान प्रदेश की मूल निवासी प्रसूताओं को ही देय होगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि योजना में देय अन्य किश्तों का भुगतान महिला एवं बाल विकास द्वारा नियमानुसार किया जायेगा।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लाभ

  1. संबंधित स्वास्थ्य केंद्र द्वारा एक नई पैदा हुई बालिका की मां को पहली किस्त 2,500 का लाभ।
  2. लड़की के एक साल पूरा करने के बाद सारे टीकाकरण के बाद सरकार 2500 रूपये की दूसरी क़िस्त चेक के द्वारा माँ को प्रदान करेगी।
  3. सरकार राज्य में किसी भी पब्लिक स्कूल में 1 कक्षा में प्रवेश के समय बालिका को 4000 प्रदान करेगी।
  4. इस योजना में लड़कियों को प्रोत्साहित करने के लिए 6 कक्षा में अपनी शिक्षा जारी रखने के लिए राज्य सरकार 5000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करती है और 11 वीं और 12 वीं में पढ़ रही लड़कियों को 11000 रूपये प्रदान करेगी।
  5. सफलतापूर्वक12 वीं कक्षा पास करने के बाद सरकार 25000 / -रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करती है।
  6. इस तरह सरकारी लाभ एक महिला बच्चे को जन्म से 12 वीं कक्षा तक उसके जीवन की विभिन्न अवस्थाओं पर प्रदान किया जाता है।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए पात्रता

  1. केवल लड़कियां इस योजना के लिए पात्र हैं।
  2. बालिका राजस्थान राज्य में पैदा हुई हो।
  3. 1 जून 2016 के बाद पैदा हुए लड़कियां मुख्यमंत्री राजश्री योजना के तहत लाभ के लिए पात्र हैं।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  1. आधार कार्ड
  2. भामाशाह कार्ड
  3. आवासीय प्रमाण
  4. एक महिला बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  5. पासपोर्ट आकार के फोटो
  6. बैंक खाता विवरण

कैसे मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए आवेदन करें

  1. आवेदक सरकारी अस्पतालों से संपर्क करना होगा।
  2. आवेदक राजस्थान में जिला/ तालुका से संबंधित स्वास्थ्य अधिकारी से संपर्क करना होगा।
  3. आवेदक को कलेक्टर कार्यालय, जिला परिषद, ग्राम पंचायत, स्वास्थ्य अधिकारी या शिक्षा अधिकारी से संपर्क करना होगा।

इस योजना को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें          

Important Links

Official Website || Official Website of Department of Women and Child Development Rajasthan || Mukhyamantri Rajshri Yojana pdf download || Mukhyamantri Rajshri Yojana Login


Govind singh

27-01-2018

2500 Blance nhi aaya

Pradeep Singh

10-03-2018

Mere beti ka janam pribat hospital me hua hai mujhe is yojana ka lab milega ya nahi

meena kumari meena

30-03-2018

19 March ko 1year ho gyi beti ke birthday ko 2500 rupee nhi aaye h

Om

05-05-2018

22/2/2018 ko mara BHI pamant nhi Aaya

Vishnu Kumar sharma

21-05-2018

Meri beti 1year ki ho gayi lekin uske 2500rupye nahin aaye

Leave Your Comment Here